नव निर्मित छात्रावास के लिए कलाकृतियों का योगदान, प्रबंधन अध्ययन केंद्र, ह च मा रीपा

   कलाकृति शीर्षक    :  गांधी  

   कलाकार /मूर्तिकार :  श्री गोपाल स्वामी खेतांची के मार्गदर्शन में श्री हरी राम कुम्भावत द्वारा बनायी गयी है |   

   विवरण                 :  इस कलाकृति में अहिंसा, शान्ति, सत्य एवं अमरत्व के प्रतीक महात्मा गाँधी जी के पास तीन कौवे दर्शाए गए है | भारतीय पौरोणिक

                                 इतिहास में मात्र कौवा एक अकेला पक्षी है जो वैतरणी नदी पार कर सकता है | जबकि आधुनिक किवंदती के अनुसार तीन

                                कौवों का इकठ्ठा होना इस बात का प्रतीक है कि बुरे समय का अंत निकट है | तीन कौवों से घिरे महात्मा गांधी जी की यह

                                कलाकृति हमें कोरोना काल का अंत समय होने की सूचना  देती है |  

   सौजन्य                 :  श्री गोपाल स्वामी खेतांची

   दिनांक                 :  07 सितम्बर 2020

   कलाकृति शीर्षक    :  राजस्थान_सतर्क_है 

   कलाकार /मूर्तिकार :  श्री खुश नारायण जांगिड़ 

   विवरण                 :  श्री  खुश नारायण जांगिड़ राजस्थानी मिनियेचर शैली के ख्यातिप्राप्त चित्रकार है, जिन्होंने इस कृति के माध्यम से

                                 कोरोनाकाल को चुनौती देते हुए सपत्नीक सेल्फ पोट्रेट का चित्रांकन किया है | 

  सौजन्य                  :  1994 बैच (राजस्थान काडर) के आईएएस अधिकारीगण

                                (कुलदीप रांका,  श्रेया गुहानरेश पाल गंगवार, आनंद कुमाररोली सिंह) 

   दिनांक                 :  27 अगस्त 2020